कुलाम का नियम

कुलाम का नियम के अनुसार दो स्थिर बिंदु आवेशो के बीच लगने वाले आकर्षण या प्रतिकर्षण बल का मान दोनों आवेशो के गुणनफल के  समानुपाती तथा उनके बीच की दूरी के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती होता है |

कुलाम का नियम
कुलाम का नियम

जहाँ K समानुपाती नियतांक है | इसका मान दोनों के बीच के माध्यम की प्रकृति एवम् माध्यम की पद्यति पर निर्भर करता है |

Leave a Comment