गति क्या होती है?

By - |

किसी भी वस्तु में समय के साथ साथ परिवर्तन गति कहलाता है।

गति के कितने प्रकार होते है

  1. घूर्णन गति
  2. सरल रेखीय गति
  3. वृतीय गति
  4. दोलन गति

घूर्णन गति

जब कोई वस्तु अपनी ही जगह पर घूमती रहती है तो इस तरह की गति को घूर्णन गति कहते है। इसे घूर्णी गति भी कहते है।

इसका उदाहरण – लट्टू का घूमना, पृथ्वी का अपनी जगह घूम सूर्य की परिक्रमा लगा लेना।

सरल रेखीय गति

जब कोई वस्तु समय के साथ-साथ एक ही दिशा में गति करती है तो इस तरह की गति सरल रेखीय गति कहलाती है।

इसको इस उदाहरण से आसानी से समझा जा सकता है। जब एक कार बिना दिशा बदले सड़क पर चलती है तो वह सरल रेखीय गति करती है।

वृतीय गति

किसी भी वस्तु का समय के साथ बिना दिशा बदले एक ही मार्ग में वृत्ताकार चक्कर लगाना ही, वृतीय गति कहलाती है।

उदाहरण – पृथ्वी के चारो और चन्द्रमा की गति

दोलन गति

जब कोई भी वस्तु अपनी माध्य स्थिति के आस-पास गति करती रहती है तो इस प्रकार की गति, दोलन गति कहलाती है।

उदाहरण – दिवार घड़ी में लगे पेंडुलम की गति।

Leave a Comment