सिग्नल क्या है?

सिग्नल एक विद्युत धारा है जिसका उपयोग सूचना को एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस पर ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है।

सिग्नल दो प्रकार के होते है

  • एनालॉग सिग्नल
  • डिजिटल सिग्नल

एनालॉग सिग्नल (Analog signal)

एनालॉग सिग्नल एक निरंतर तरंग है जो समय के साथ-साथ बदलती रहती है।

analog signal
  • Analog signal को साइन तरंगो से दर्शाया जाता है।
  • यह तरंग (वेव) के रूप में डेटा को ट्रांसफर करता है।
  • एनालॉग सिंगला की कोई निश्चित सीमा नहीं होती है।
  • एनालॉग सिग्नल में विकृति (बदलाव) की संभावना अधिक होती है।

मनुष्य की आवाज एनालॉग सिग्नल का सबसे अच्छा उदाहरण है।

डिजिटल सिग्नल (Digital signal)

डिजिटल सिग्नल एक निरंतर तरंग नहीं होती है।

digital signal
  • डिजिटल तरंग को square वेव द्वारा दर्शाया जाता है।
  • डिजिटल सिग्नल की एक fix (निश्चित) सीमा होती है 0 से 1 तक।
  • डिजिटल सिग्नल में डेटा को बाइनरी रूप में किया जाता है।
  • इसमें डेटा में विकृति (बदलाव) की सम्भावना कम होती है।

इसका सबसे अच्छा उदाहरण कंप्यूटर में डेटा का संचरण है।

Leave a Comment

Copy link