बिन्दुवत आवेश के कारण किसी बिंदु पर विधुत क्षेत्र

बिंदु A पर विधुत आवेश q है | इससे r दूरी पर P है जिस पर हमे विधुत क्षेत्र की तीव्रता ज्ञात करनी है इसीलिए बिंदु P पर परिक्षण आवेश की कल्पना करते है | विधुत क्षेत्र की तीव्रता E व दूरी r के साथ ग्राफ

स्थिर वैधुतिकी | आवेश का मात्रक

स्थिर वैधुतिकी

स्थिर वैधुतिकी – भौतिक विज्ञानं की वह शाखा जिसके अंतर्गत स्थिर आवेश तथा आवेशो के गुन्धर्मो का अध्यन किया जाता है स्थिर वैधुतिकी कहलाती है | विधुत आवेश – यह पदार्थ का वह गुण जिसके कारण वह विधुत तथा चुम्बकीय प्रभाव उत्पन्न करता है अथवा इसका अनुभव करता है | विधुत आवेश इलेक्ट्रान के स्थानांतरण … Read moreस्थिर वैधुतिकी | आवेश का मात्रक

error: Content is protected !!